Breaking News

संक्रमितों के उपचार के लिए स्वास्थ्य विभाग करेगा पुख्ता तैयारी। कोरोना के मद्देनजर एनटीपीसी के साथ किया 2 करोड़ 23 लाख रूपए का करार

नवरत्नमल जैन
संक्रमितों के उपचार के लिए स्वास्थ्य विभाग करेगा पुख्ता तैयारी। कोरोना के मद्देनजर एनटीपीसी के साथ किया 2 करोड़ 23 लाख रूपए का करार
==============

खरगोन 18 जून 2020/ आज कोरोना न सिर्फ शहरों में, बल्कि ग्रामीण क्षेत्रों में भी अपने पांव पसारने लगा है। इसी के मद्देनजर जिला प्रशासन ने संक्रमितों के उपचार और उनकी पहचान के लिए व्यापक तैयारियां की है। इन व्यापक तैयारियों में एक तरफ घर-घर जाकर संक्रमितों की पहचान करना सुनिश्चित किया गया है। वहीं संक्रमितों का सही समय पर उचित उपचार हो, इसके लिए विस्तृत और विधिवत कार्य योजना तैयार की गई। कार्य योजना के तहत गुरूवार को स्वामी विवेकानंद सभागृह में नेशनल थर्मल पॉवर कॉपोरेशन और जिला प्रशासन द्वारा 2 करोड़ 23 लाख रूपए का करार (एमओयू) किया गया। इस करार के अंतर्गत इस पूरी राशि की पाई-पाई कोविड-19 में उपयोग की जाएगी। गुरूवार को हुए अनुबंध के दौरान कलेक्टर श्री गोपालचंद्र डाड और एनटीपीसी के कार्यकारी निदेशक श्री अशीम कुमार गोस्वामी अपने संबोधन में कोरोना की लड़ाई में इस अनुबंध को महत्वपूर्ण कदम बताया है। कलेक्टर श्री डाड ने कहा कि इस कार्य की प्रक्रिया आज से ही प्रारंभ की जाएं, जिससे ज्यादा से ज्यादा संक्रमितों का उपचार सुनिश्चित किया जा सके। यह अनुबंध न सिर्फ खरगोन शहर के लिए, बल्कि पूरे जिले के लिए उपयोगी और स्थायी रूप से यह होगा। इस अनुबंध के तहत खरगोन के साथ-साथ कसरावद, बड़वाह और सनावद में ऑक्सीजनयुक्त आईसोलेशन वार्ड स्थापित होंगे। यह राशि कोरोना से लड़ाई में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी।

==============
करार नामें पर सीएमएचओ और एनटीपी सीएमओ के हुए दस्तखत
==============
निर्धारित प्रक्रिया अनुसार करार नामें पर एनटीपीसी के चीफ मेडिकल ऑफिसर श्री अजय सिंह और मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. रजनी डावर ने दस्तखत किए। इसके पश्चात एनटीपीसी के कार्यकारी निदेशक श्री गोस्वामी ने कलेक्टर श्री डाड को अनुबंध सौंपा। अनुबंध के दौरान कार्यकारी निदेशक श्री गोस्वामी ने कहा कि यह जिंदगी बचाने का समझौता है, जिससे हर एक संक्रमित व्यक्ति को लाभ होगा। कुछ दिनों पहले कलेक्टर श्री डाड ने कोरोना के बचाव व उपचार के संबंध में एनटीपीसी से जिक्र करते हुए सीएसआर फंड के माध्यम से सहयोग करने की बात कहीं। एमओयू के संबंध में 8 जून को आयोजित जिला स्तरीय संकट प्रबंधन समुह की बैठक में निर्णय लिया गया था, जिसके बाद निरंतर रूपरेखा तैयार कर बहुत ही शीघ्र करार करने पर निर्णय लिया गया। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक श्री सुनील पांडेय, एसडीएम अभिषेक गेहलोत, डॉ. दिव्येश वर्मा, एनटीपीसी के एजीएमएचआर सत्यकाम जयप्रकाश व रहमान उपस्थित रहे।
==============
यहां होगा राशि का उपयोग
==============

अनुबंध के तहत इस राशि का उपयोग कोविड-19 में खरगोन के अलावा जिले के 4 महत्वपूर्ण स्थानों पर उपचार की विस्तृत व उचित व्यवस्था की जाएगी, जिसमें 250 ऑक्सीजन युक्त आईसोलेशन बेड के अलावा खरगोन में 15 बेड का एक उत्कृष्ट आईसीयू स्थापित किया जाएगा। जिसके लिए आवश्यकतानुसार मशीनें क्रय की जाएगी, जिसकी कार्यवाही गुरूवार से ही क्रय समिति द्वारा अनुमोदन पश्चात प्रारंभ होगी। 15 बिस्तरीय आईसीयू के लिए ईसीजी, एबीजी, सेंट्रल मॉनीटरिंग सिस्टम, बीपेप, इनफ्लूजन सिरींज पंप, मल्टीपेरा मानिटर, मोबाईल एक्स्-रे, सक्शन, एयरवोहाईफ्लो ऑक्सीजन सिलेंडर और बॉयोकेमेस्ट्री मशीन के अलावा अन्य उपरण भी खरीदे जाएंगे। अनुबंध के मुताबिक 250 ऑक्सीजन बेड में से 100 बेड खरगोन के जिला चिकित्सालय, 80 बेड राधाकुंज खरगोन, 20-20 बेड बड़वाह और सनावद अस्पताल तथा 30 बेड कसरावद में महेश्वर व कसरावद के लिए संयुक्त रूप से स्थापित होंगे। सीएमएचओ डॉ. डावर ने बताया कि अब 250 बेड एनटीपीसी की राशि से और 150 बेड एचएचएम (विभागीय मद) से स्थापित होंगे, जिसमें 30 आईसीयू भी शामिल है। इस तरह कोविड-19 के लिए जिले में कुल 400 बेड तैयार होंगे।

Check Also

बीना-रेलवे-ट्रेक-पर-एक-इंजन-दूसरे-से-भिड़ा,-ट्रेक-पर-एक-के-पीछे-एक-दौड़ने-लगे,-कर्मचारी-भी-पीछे-दौड़े,-ट्रेक-के-एंड-पाइंट-को-उखाड़-फेंका

बीना रेलवे ट्रेक पर एक इंजन दूसरे से भिड़ा, ट्रेक पर एक के पीछे एक दौड़ने लगे, कर्मचारी भी पीछे दौड़े, ट्रेक के एंड पाइंट को उखाड़ फेंका

🔊 Listen to this मध्यप्रदेश के बीना से गुना की तरफ जाने वाले रेलवे ट्रेक …