Breaking News
लोगों-को-बिना-पास-घूमते-देख-आगबबूला-हुए-एसपी,-ड्यूटी-पर-तैनात-जवानों-को-कहा-–-सुधरे-नहीं-तो-निकाल-दूंगा

लोगों को बिना पास घूमते देख आगबबूला हुए एसपी, ड्यूटी पर तैनात जवानों को कहा – सुधरे नहीं तो निकाल दूंगा


उज्जैन में लगातार कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ने और आम लोगों द्वारा लॉकडाउन का पालन जांचने गुरुवार को खुद उज्जैन एसी सड़क पर उतरे। एसपी मनोज सिंह ने शहर के कई चौराहों पर पहुंचे और चेकिंग पाइंट पर खुद खड़े होकर आने-जाने वालों को चेक करवाया। सड़क पर आम लोगों की भीड़ देख वे आगबबूला हो गए और पाइंट पर तैनात पुलिसकर्मियों पर बिफर पड़े। उन्होंने कहा कि जिनके पास पास नहीं है वे भी खुलेआम घूम रहे हैं। आप लोगों को फिर यहां क्यों तैनात किया गया है। मुझे लॉकडाउन का परिणाम चाहिए। यदि नहीं सुधरे तो मैं निकाल दूंगा। उन्होंने वहां मौजूद वरिष्ठ अधिकारी से कहा कि इनकी ड्यूटी को जांचे, ये लोग मुझे निकम्मे दिख रहे हैं।

उज्जैन में पिछले एक हफ्ते में लगातार बड़ी संख्या में पॉजिटिव केस सामने आ रहे हैं। बुधवार को भी 61 नए मामले सामने आए थे। इसके साथ ही यहां अब तक 481 लाेग संक्रमित हाे चुके हैं, जिसमें से 51 की जान जा चुकी है। उज्जैन एसपी काे पता चला था कि शहर में लाॅकडाउन का सही तरीके से पालन नहीं हाे रहा है। इसलिए वे खुद सुबह शहर के विभिन्न चौराहा पर लगे चेकिंग पाइंट पर पहुंचे। यहां अलग-अलग चेकिंग पाइंट पर जाकर उन्होंने व्यवस्थाओं को देखा, लेकिन जैसे ही वे चरक अस्पताल के सामने लगे चेकिंग पाइंट पर पहुंचे, वहां जमा भीड़ और लगातार गाड़ियाें की आवाजाही देख वे बिफर पड़े। ड्यूटी पर तैनात जवानों को उन्होंने कड़ी कार्रवाई करने की चेतावनी तक दे डाली।

यह मेरी आखिरी चेतावनी, नहीं तो सख्त कार्रवाई करूंगा
एसपी मनोज सिंह ने कहा कि चेकिंग पाइंट को चेक करने का काम मेरा नहीं है, लेकिन आप लोगों के कारण मुझे निकलना पड़ रहा है। जवान बैठे हुए हैं किसी से कोई पूछ नहीं रहा है कम से कम उसको रोको टोको और उससे पूछो तो सही बाद जाने दो। पुलिसवालों से एसपी ने सख्त हिदायत में कहा कि यह मेरी आखिरी चेतावनी है नहीं तो मैं सख्त कार्रवाई करूंगा और निकाल भी दूंगा। उज्जैन एसपी यहीं नहीं रुके इसके बाद उन्होंने चेकिंग पाइंट पर लगे पुलिसकर्मियों को निकम्मा तक कह डाला। हालांकि एसपी ने साफ कहा की जब तक बेवजह घूम रहे लोग अपने घर में नहीं रहेंगे, तब तक हम कोरोना को हरा नहीं पाएंगे। इसलिए अब सख्ती जरूरी हो गई है।
एसपी बोले – मैंने यहां खड़े-खड़े 50 लोगों पर कार्रवाई करवाई

सुबह गश्ती पर निकलने काे लेकर कहा कि मुझे सूचना मिली थी कि प्रशासन द्वारा जारी पास के अलावा भी लाेग बेवजह घर से निकलकर शहर में घूम रहे हैं। इसके अलावा कुछ लाेग जारी पास के आड़मेंभी यहां वहां घूम रहे हैं। शहर में निलकने पर मैंने पाया कि वाकई में कुछ लोग इस प्रकार से घूम रहे हैं। ऐसे करीब 50 लोगोंके खिलाफ मैंने खुद खड़े रहकर कार्रवाई करवाई है। ऐसे लोगों की गाड़िया जब्त कर थाने भिजवाया गया है। मैंने अधीनस्थ थाना प्रभारी, सीएसपी को खुली चेतावनी दी है कि मुझे टोटल लॉकडाउन का परिणाम चाहिए। यदि मुझे लापरवाही मिली तो मैं इनके खिलाफ भी कड़ी कार्रवाई करूंगा।
यह बाबा महाकाल की नगरी, संक्रमण को रोकना मेरी पहली जिम्मेदारी
उन्होंने कहा कि यह बाबा महाकाल की नगरी है, शहर को बचाना है। कोरोना संक्रमण को रोकना ही मेरी पहली प्राथमिकता है। किसी के साथ बदसलूकी ना हो, लेकिन जो लॉकडाउन का उल्लंघन करेगा और जो पालन नहीं करवा पाएगा, दोनोंके खिलाफ ही सख्त कार्रवाई करने वाला हूं। आगे भी मैं बिना बताए शहर में निकलूंगा। जिससे लॉकडाउन का सख्ती से पालन करवाया जा सके। उन्होंने उज्जैन की जनता से अपील करते हुए कहा कि जो केस सामने आ रहे हैं उससे घबराने की जरूरत नहीं है। जो केस आ रहे हैं, उन्हें हम सर्वे कर बाहर निकाल रहे हैं। इस बीमारी को जड़ से खत्म करने का हमारा प्रयास है। शहर की जनता भी लॉकडाउन का पालन करे।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


एसपी मनोज सिंह ने शहर के 10 से ज्यादा चेकिंग पाइंट को मौके पर पहुंचकर जांचा।

Check Also

मामूली-बात-पर-देपालपुर-में-चले-जमकर-हथियार,-पिता-की-मौत,-बेटे-की-हालत-गंभीर,-इंदौर-रैफर

मामूली बात पर देपालपुर में चले जमकर हथियार, पिता की मौत, बेटे की हालत गंभीर, इंदौर रैफर

🔊 Listen to this प्रेम विवाह काे लेकर चली आरही दाे पक्षाें की दुश्मनीखूनी संघर्ष …