Breaking News

संतो की हत्या यानी भारतीय संस्कृति की हत्या : हार्दिक हुंड़िया ।

PRESS NOTE

संतो की हत्या यानी भारतीय संस्कृति की हत्या : हार्दिक हुंड़िया ।

पालघर के पास दो हिंदू संतो की जिस तरह से हत्या हुई है उस निंदनीय घटना के बारे में हम भारतीय कभी सोच भी नहीं सकते । भारतीय संस्कृति यानी एक अनमोल जीवन, पूरा विश्व ऐसा जीवन जीने की कोशिश कर रहा है । राष्ट्र प्रेम और धर्म प्रेम से भरा हुवा जीवन ये संतो का जीवन होता है । धर्म के साथ साथ राष्ट्र प्रेम के अनमोल पाठ यह संत समाज ही हमें सिखाता है, ऐसे हमारे देश के अनमोल धरोहर संतो की हत्या यानी हमारी संस्कृति की हत्या यह बात बताते हुए ऑल इंडिया जैन जर्नलिस्ट एशोशियेशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष हार्दिक हुंड़िया ने कहा है की हम ये महात्माओं की हत्या की घोर निंदा करते है । यह संत की हत्या के साथ साथ हमारी संस्कृति की हत्या हुई है जो हम कभी बर्दाश्त नहीं कर पायेंगे । हमारा देश संतो और महंतो की भूमि है । संत महात्माओं देश को अनमोल जीवन जीने की सलाह देते है । आईजा के राष्ट्रीय अध्यक्ष हार्दिक हुंड़िया ने कहा है की हमें राजकीय खेल नहीं खेलना चाहिये, सब राजकीय पार्टी एक दूसरे का विरोध करने की जगह साथ मिलकर इस तरह की घटना का हल लाना चाहिये । संत कभी भी किसी पक्ष के नहीं होते, वह पूरे राष्ट्र के होते है, इन की रक्षा करना राष्ट्र का धर्म है । सादगी भरा जीवन और उच्च विचार उनका जीवन होता है जो हम सब के लिये प्रेरणादायक है । पोलिस की ऐसी क्या मजबूरी थी की जो दहेशतगर्ज जो लाठियाँ लेकर के आये थे वो हत्यारों के बीच संतो को छोड़ दिया ? इसकी की जांच करके दुबारा इस तरह की घटना ना घटे इसके लिये सावधान हो कर देना चाहिये । एक तरफ देश की पोलिस कोरोंना जैसी भयंकर बीमारी के सामने हमारी रक्षा के लिये अपना जीवन लगा दे रही है ।आईजा के अध्यक्ष हार्दिक हुंड़िया ने संतो की निर्मम हत्या का विरोध करते हुए कहा की हमें देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र भाई मोदी और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री श्री उद्धवजी ठाकरे, गृह मंत्री अनिल देशमुख पर पूरा भरोसा है कि वे इस घटना की पूरी जाँच करके गुन्हगारो को सज़ा दी जाये और दुबारा इस तरह की घटना कभी नहीं होनी चाहिए । पूरा देश संतो की हत्या की घोर निंदा कर रहा है । संतो की हत्या यानी हमारे अनमोल जीवन की, हमारी संस्कृति की , हमारे धर्म की हत्या है ।
आइजा के राष्ट्रीय महामंत्री महावीर श्रीश्रीमाल, महाराष्ट्र से दिलीप कावेरिया, गुजरात से अल्पेश शाह, राजस्थानसे रवि पूँगलिया, छतिशगढ से प्रदीप पघारिया, कर्नाटक से सुभाष डंक, तेलंगाना से दिनेश जैन, तमिलनाडु से दिनेश सालेचा,दिल्ली से कपिल जैन ,पंजाब से नरेश जैन, मध्य प्रदेश से पवन नाहर जैसे कई जैन धर्म के अनुआइओ ने पालघर में संतो के हत्या की घोर निंदा करता है ये बात आइजा के राष्ट्रीय प्रचार कमिटी के अध्यक्ष मानकमलजी मेहता ने बताई है

Check Also

ग्राम पिपलिया को किया जा रहा है सैनिटाइज कोरोना हारेगा हमारा गांव एवं देश जीतेगा वायरस से घबराए नहीं घरों में सावधान और सतर्क रहें*

🔊 Listen to this अशोक महाजन पंधाना *ग्राम पिपलिया को किया जा रहा है सैनिटाइज …