Breaking News

कसरावद में मिर्च महोत्सव का भव्य शुभारंभ , मिर्च महोत्सव के पहले ही दिन किसानों का उमड़ा जनसैलाब

राजू पटेल की रिपोर्ट

कसरावद में मिर्च महोत्सव का भव्य शुभारंभ
मिर्च महोत्सव के पहले ही दिन किसानों का उमड़ा जनसैलाब

कृषि मंत्री श्री सचिन यादव,पूर्व केंद्रीय मंत्री श्री अरुण यादव सहित अनेक विधायको ने किया किसानों को संबोधित

कृषि वैज्ञानिक , आधुनिक कृषि यंत्रों,कृषि बीजो एवम मिर्च उत्पादों को देखकर खुश नजर आए किसान


 खरगोन जिले के कसरावद की कृषि उपजमंडी में शनिवार को  दो दिवसीय मिर्च महात्सव का  भव्य  शुभारंभ हुआ तो पहले ही दिन  किसानों  का जनसैलाब उमड़ पड़ा ।   निमाड़  ही प्रदेश में किसानों के मसीहा  कहे जाने वाले  स्व. श्री सुभाष यादव के सुपुत्र कृषिमंत्री श्री सचिन यादव  की  मेहनत आज रंग लाई  और खरगोन जिले में ही नही  पूरे प्रदेश में पहली बार  मिर्च महोत्सव आयोजित करने का सपना किसान भाईयों  ने साकार होते देखा ।
मंच पर पूर्व प्रदेश कांग्रेस अघ्यक्ष श्री अरूण यादव , बड़वाह विधायक  श्री सचिन बिरला,  मांधाता विधायक  श्री नारायण पटेल के साथ ही अनेक जनप्रतिनिधि, कृषि वैज्ञानिक , कलेक्टर श्री गोपाल चंद्र डाड एवम एसपी महोदय सहित अनेक अधिकारी मौजूद थे । 
महोत्सव का शुभारंभ भगवान बलराज एवम किसान नेता पूर्व उपमुख्य मंत्री श्री सुभाष यादव के चित्र को माल्यार्पण के साथ हुवा।

 निमाड़ की मिर्ची को अंतरराष्ट्रीय पहचान दिलाने के लिए कसरावद में  मिर्च महोत्सव की कल्पना कृषि मंत्री श्री सचिन यादव ने की । मिर्च महोत्सव भी हो सकता है  ऐसा अभी तक किसी ने सोचा तक नही था  लेकिन प्रदेश के कुल मिर्च उत्पादन में ५४ प्रतिशत हिस्सा अकेले निमाड़ का होते हुये भी   निमाड़ की मिर्च को वो ख्याति  अभी तक नही मिलपाई थी  जितना नाम  आंध्रपद्रेश के गंटूर की मिर्च का है । इसी लिये  श्री सचिन यादव  ने पहली बार मिर्च महोत्सव का निमाड़ के कसरावद में आयोजन कर पूरे प्रदेश एवं देश में  निमाड़ी मिर्च के महत्व को  साबित कर दिखाया । 

 कृषि मंत्री श्री सचिन यादव एवं पूर्व केन्द्रिय मंत्री श्री अरूण यादव का  प्रयास है कि  जिस तरह  नागपुर के संतरे, कोटा स्टोन व आंध्रप्रदेश के गुंटुर की गुंटुर मिर्च प्रसिद्ध है  उसी तरह खरगोन की मिर्च निमाडी ब्रांड के नाम से जानी जाए । 

मिर्च उत्पादक किसान भाईयों को महोत्सव में वैज्ञानिक
 बतायेगें मिर्च को वायरस से बचने   की आधुनिक तकनीक- सचिन यादव 

 कार्यक्रम की शुरूआत  करते हुये  कृषि मंत्री सचिन यादव ने  कहा – पिछले 5 सालों से हमारे किसान भाइयों को बेगोमो वायरस (पर्ण सिकुडऩ यानी लीफ कर्ल) से परेशानी उठानी पड रही है। समारोह में कई ऐसे विशेषज्ञ मौजूद हैं, जो इस वायरस के रोकथाम के बारे में हमें बताएंगे। हमारी सरकार की कोशिश है कि किसानों को अब हम जैविक खेती की ओर लेकर जाएं। इसी कड़ी में हमने किसानों से जैविक शपथ पत्र भरवाने शुरू किए हैं। उन्होंने कहा कि किसानों को एक संस्था गठित कर काम करना चाहिए। कृषि उत्पादक संस्थाओं का निर्माण हो और एक फसल को चिह्नित कर खेती की जाए। 

विशेषज्ञों व वरिष्ठ विभागीय अफसरों का कहना है देश-विदेश में स्थानीय पहचान के उत्पाद तेजी से पहचान बना लेते हैं। इसलिए निमाड़ी मिर्च को भी उसके क्षेत्र के नाम से ही पहचान दिलाई जाना ज्यादा बेहतर होगा। संयुक्त संचालक कृषि इंदौर आरएस सिसौदिया बताते हैं क्षेत्र के नाम से उत्पाद को जल्दी पहचान मिलती है। उद्यानिकी उपसंचालक के.के. गिरवाल का कहना है मिर्च महोत्सव में फसल की ब्रांडिंग ही प्राथमिकता में शामिल है। तकनीकी व बाजार संबंधी जानकारी भी मिलेगी। निमाड़ क्षेत्र में मिर्च उत्पादक बहुल खरगोन, धार, खंडवा, बड़वानी व आलीराजपुर आते हैं।

निमाड़ का रकबा 65.65 व उत्पादन 54.35 फीसदी

प्रदेश का मिर्च का कुल रकबा 87743 हैक्टेयर में मिर्च बुआई होती है। इसका निमाड़ में 65.57 फीसदी होता है। इसी तरह प्रदेश के कुल मिर्च उत्पादन 2 लाख 18 हजार 307 मैट्रिक टन उत्पादन का 54.35 फीसदी उत्पादन यहां होता है। जबकि प्रदेश में अकेले खरगोन की मिर्च रकबा व उत्पादन भागीदारी ३४ प्रतिशत है। दूसरे नंबर पर धार है।

50 कर्मचारी देख रहे व्यवस्था

महोत्सव के लिए राज्य स्तर पर नोडल अधिकारी उद्यानिकी संचालनालय उप संचालक डॉ. विजय अग्रवाल नियुक्त हैं। कलेक्टर ने जिलास्तर पर व्यवस्थाओं के लिए जिपं सीईओ डीएस रणदा, खरगोन एसडीएम अभिषेक गेहलोत, कसरावद एसडीएम नेहा शिवहरे सहायक नोडल अधिकारी नियुक्त कर जवाबदारी सौंपी है। मंडलेश्वर एसडीओपी मानसिंह यातायात व पार्किंग व जिपं के तकनीकी सहायक नीरज अमझरे को सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रभारी बनाया है। इनके अलावा चार मनरेगा अफसरों के नेतृत्व में 39 कर्मचारी दो दिन व्यवस्थाएं सम्हाल रहे है ।

कांग्रेस नेता श्री शेरू यादव,अनिल यादव ने कहा कि जिस तरह पहले ही दिन किसानों का जनसैलाब मिर्च महोत्सव में उमड़ा है।उससे इस आयोजन की सफलता ने नई बुलंदियों को छुआ है।

कसरावद से नवरत्न जैन के साथ राजू पटेल की खास रिपोर्ट

Check Also

22-नए-कंटेनमेंट-एरिया,-संख्या-बढ़कर-63-हुई,-यहां-आने-जाने-पर-पूरी-रोक

22 नए कंटेनमेंट एरिया, संख्या बढ़कर 63 हुई, यहां आने-जाने पर पूरी रोक

🔊 Listen to this कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़ने के साथ ही प्रशासन ने …