Breaking News

आज कमलनाथ करेंगे नये मंदिर का फैसला खंडवा दादा धाम की भोपाल में प्रदेश स्तर की पहली महत्वपूर्ण बैठक

मनोज जैन बीड

आज कमलनाथ करेंगे नये मंदिर का फैसला
खंडवा दादा धाम की भोपाल में प्रदेश स्तर की पहली महत्वपूर्ण बैठक
पटेल समिति, दादाजी ट्रस्ट और छोटे सरकार के प्रतिनिधि होंगे शामिल

खंडवा। वर्षो से न्यायालय में चल रहे अयोध्या प्रकरण का पटाक्षेप विगत संपन्न हुआ और दोनों पक्षों ने न्यायालय के आदेश का सम्मान करते हुए इसका स्वागत किया। वहीं पूरे देश की जनता ने भी इस फैसले को लेकर खुशी जाहिर की। इसी प्रकार खंडवा में भी दादाजी धाम पर दादाजी का विशाल मंदिर बनने जा रहा है। एक ओर जहां छोटे दादाजी की आज्ञा अनुसार छोटे सरकार रामेश्वर दयाल जी एवं भक्तों द्वारा लगभग 90 ट्रक तराशा हुआ मार्बल मंदिर निर्माण लेकर मंदिर परिसर एवं आसपास 20 वर्षो से पड़ा है। वहीं दादाजी धाम ट्रस्ट मंडल द्वारा कुछ दिन पूर्व 108 खम्बों के नये मंदिर निर्माण को लेकर लाल पत्थर से कार्य शुरू कर दिया गया था। तकनीकी कारणों से एसडीएम द्वारा मंदिर निर्माण पर रोक लगा दी गई थी।

काफी वर्षो से इस मंदिर का भी निर्माण शुरू होना है लेकिन तीन पक्षों के तालमेल के अभाव में इसमें विलंब हो रहा है और अब यह मंदिर निर्माण का मामला मप्र सरकार की झोली में चला गया है। समाजसेवी व दादाजी भक्त सुनील जैन ने बताया कि इस मंदिर निर्माण को लेकर आपसी समन्वय बनाने के लिए प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ स्वयं इसमें शामिल हो रहे हैं और 5 दिसंबर गुरूवार को तीनों पक्षों के वरिष्ठ पदाधिकारियों को भोपाल जिला प्रशासन खंडवा के माध्यम से सूचना देकर बुलाया गया है। मप्र के मंत्रालय भवन में दोपहर 12 बजे दादाजी मंदिर निर्माण को लेकर महत्वपूर्ण बैठक मुख्यमंत्री कमलनाथ की अध्यक्षता में संपन्न होगी। संभावना है कि गुरूवार का दिन दादाजी का ही दिन है और अच्छे परिणाम की दादाजी भक्तों का अपेक्षा है। मंदिर निर्माण को लेकर ट्रस्ट मंडल के सुभाष नागोरी ने बताया कि छोटे सरकार की ड्राइंड डिजाईन में आठ-दस फीट के खंबे होकर उंचाई मात्र 45 फुट होकर दोषपूर्ण है। मार्बल मंदिर मात्र दस हजार स्केवयर फुट पर बनेगा जबकि बंशीपुरा गुलाबी पत्थर का मंदिर 15 हजार स्केवेयर फीट पर बनेगा। वर्तमान मंदिर को बिना क्षति पहुंचाए सारा निर्माण हो सकेगा। राम मंदिर भी इसी गुलाबी बंशीपुरा पत्थर से बनेगा। इसके वास्तुकार विरेन्द्र त्रिवेदी जिन्होंने अक्षरधाम मंदिर का वास्तु निर्मित किया है, हैं। छोटे सरकार की ओर से भोपाल जा रहे कर्नल श्री टंडन ने बताया कि जिस प्रकार शिर्डी के सांई बाबा एवं गजानंद महाराज मंदिर का लगातार विस्तार होकर भव्य मंदिर बनाए गए हैं उसी प्रकार छोटे दादाजी की आज्ञानुसार दादाजी धाम पर भी मंदिर निर्माण को लेकर छोटे सरकार द्वारा 84 खम्बों का संगमरमर का मंदिर बनाने का मॉडल देश के प्रसिद्ध वास्तुकार व डिजाईनर सोमपुरा द्वारा तैयार किया गया है। लेकिन ट्रस्ट मंडल द्वारा रूचि नहीं लेने के कारण मंदिर निर्माण अभी तक नहीं हो पाया है जबकि 90 ट्रक मार्बल मंदिर के आसपास नक्काशी किया हुआ अव्यवस्थित पड़ा है। हम चाहते हैं कि हजारों साल की उम्र वाले संगमरमर के पत्थर से दादाजी मंदिर का निर्माण हो। पटेल समिति के मदन ठाकरे का कहना है कि दादाजी धाम पर भव्य मंदिर बने ताकि देश विदेश से लोग आकर दादाजी के दर्शन कर सके। भोपाल में आयोजित बैठक में दादाजी ट्रस्ट मंडल की ओर से सुभाष नागोरी, डा. मुनीश मिश्रा, शांतनु दीक्षित, प्रकाश बाहेती, नितिन श्रीमाली मौजूद रहेेंगे। वहीं छोटे सरकार की ओर से आरके टंडन, राजेश डोंगरे, परमजीतसिंग नारंग, डा. अनिल दशोरे, हिमांशु अग्रवाल और पटेल सेवा समिति की ओर से मदन ठाकरे, विधायक नारायण पटेल, जतिन पटेल, अनिल ठाकुर, श्री दुपल्लीवार, विश्वनाथ आखरे, विजय चौधरी, शामिल होंगे। वहीं चौथे पक्ष के रूप में अवधेश सिसोदिया, कुंदन मालवीय, अर्श पाठक, ओंकार पटेल, इंदलसिंह पंवार भी दादाजी मंदिर को लेकर आयोजित बैठक में अपनी बात रखेंगे। इन पक्षों के साथ ही बैठक में प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ, प्रभारी मंत्री तुलसीराम सिलावट, इंदौर संभाग कमिश्नर आकाश त्रिपाठी, खंडवा कलेक्टर तन्वी सुन्द्रियाल, एसडीएम केशवप्रसाद पाण्डेय सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहेंगे।

Check Also

22-नए-कंटेनमेंट-एरिया,-संख्या-बढ़कर-63-हुई,-यहां-आने-जाने-पर-पूरी-रोक

22 नए कंटेनमेंट एरिया, संख्या बढ़कर 63 हुई, यहां आने-जाने पर पूरी रोक

🔊 Listen to this कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़ने के साथ ही प्रशासन ने …